NEET क्या है? / NEET का मतलब क्या होता है

By | May 22, 2021

NEET क्या है? नीट का मतलब क्या होता है – बहुत सारे लोगों का डॉक्टर बनने का सपना होता है। इसके लिए भारत में NEET कराया जाता है। इस Exam को पास करने वाले लोग MBBS, BDS, MS और MD जैसे Courses की पढ़ाई करते हैं। इस कोर्स को करने के बाद वे एक योग्य डॉक्टर बन जाते हैं।

बहुत सारे छात्र जो हाल ही में इंटरमीडिएट पास हुए हैं उन्हें अच्छी तरह से यह जानकारी नहीं होती है कि NEET क्या है और NEET के लिए क्या Qualification चाहिए? यदि आप भी इसके बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में हमने इसी बारे में जानकारी दी है।

NEET क्या है?

NEET का फुल फॉर्म National Eligibility Cum Entrance Test है। दरअसल NEET एक Pre Medical Test है, जो किसी मेडिकल कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने के लिए कराया जाता है। हर साल डॉक्टर बनने का सपना पूरा करने के लिए लाखों की संख्या में छात्र NEET देते हैं लेकिन उसमें से कुछ गिने चुने छात्र ही सफलता पाते हैं।

इस परीक्षा में पास होने वाले छात्रों को मेडिकल कॉलेज में दाखिला बनता है। यानी यदि आप किसी अच्छे मेडिकल कॉलेज से डॉक्टरी की पढ़ाई करना चाहते हैं तो इसके लिए NEET का Exam Qualify करना आवश्यक है। NEET का Exam नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) आयोजित कर आती है।

Read More – भारतीय तटरक्षक (Indian Coast Guard) क्या होता है? तटरक्षक (Coast Guard) कैसे बनें?

यदि आप हाई स्कूल की परीक्षा पास कर चुके हैं और आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको NEET के बारे में जानकारी करना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि इसी के हिसाब से आप इंटरमीडिएट में अपना कोर्स चुन सकते हैं और साथ ही साथ NEET पास करने के लिए तैयारियां भी कर सकते हैं। इस आर्टिकल में हमने NEET से संबंधित सभी सवालों के उत्तर दिए हैं।

NEET की आवश्यकता क्यों पड़ी?

NEET की शुरुआत होने से पहले अलग अलग राज्य मेडिकल कॉलेज में दाखिला के लिए अलग-अलग Entrance Exam आयोजित कराते थे। कई ऐसे भी राज्य थे जिनमें मेडिकल कॉलेज में दाखिला लेने के लिए कई अलग-अलग परीक्षाएं ली जाती थी। इस प्रक्रिया में समय एवं पैसे दोनों की बर्बादी होती थी। इसको देखते हुए NEET की शुरुआत हुई। NEET राष्ट्रीय स्तर पर कराई जाती है जिसमें पास होने के बाद कोई भी छात्र देश के किसी भी मेडिकल कॉलेज में प्रवेश प्राप्त कर सकता है। हालांकि NEET में रैंक के हिसाब से कॉलेज मिलते हैं।

NEET पहली बार कब आयोजित हुई थी?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि NEET पहली बार 5 मई 2013 को आयोजित की गई थी। अब साल भर में 2 बार NEET का आयोजन कराया जाता है ताकि अधिक से अधिक छात्र मेडिकल कॉलेज में दाखिला ले सके और अपना डॉक्टर बनने का सपना पूरा कर सकें।

NEET देने के लिए Qualification क्या है?

यदि आप जनरल कैटेगरी के कैंडिडेट हैं और NEET देना चाहते हैं तो इसके लिए आपको इंटरमीडिएट में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान विषय के साथ 50% अंक लाना जरूरी है। इसके अलावा यदि आप एससी टेस्टी या ओबीसी हैं तो आपको ऊपर बताए गए विषयों के साथ इंटरमीडिएट में 40% अंक लाना जरूरी है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मेडिकल के क्षेत्र में जीव विज्ञान का बहुत महत्व है। इतना ही नहीं यदि आप NEET में शामिल होना चाहते हैं तो इसके लिए आप की उम्र 17 वर्ष से अधिक होना चाहिए। इसके अलावा आपका भारतीय नागरिक होना बहुत ही जरूरी है।

NEET किस-किस Level पर होती है?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि NEET UG Level और PG Level पर होती है। यूजी लेवल Exam देने के लिए आपको इंटरमीडिएट पास करना आवश्यक है। इस Level पर NEET में पास होने के बाद आपको स्नातक स्तर के कोर्स जैसे MBBS, BHMS, BDS इत्यादि प्रकार के कोर्स में प्रवेश मिलता है। यदि आप PG Level Exam देना चाहते हैं तो इसके लिए आपको मेडिकल के क्षेत्र में Graduation पास होना जरूरी है। इसमें MS, MD जैसे कोर्स में दाखिला मिलता है।

NEET का Syllabus

साल भर में NEET दो बार आयोजित कराई जाती है। इसके अलावा NEET का पेपर एक ही होता है जो कि Offline Mode में कराया जाता है। इस परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न आते हैं जिसमें गलत उत्तर के लिए नेगेटिव मार्किंग भी होती है। NEET में 4 विषयों से प्रश्न आते हैं जिसमें भौतिक विज्ञान के 25% प्रश्न, रसायन विज्ञान के 25% प्रश्न, बॉटनी के 25% प्रश्न और जूलॉजी के 25% प्रश्न शामिल हैं।

NEET की तैयारी कैसे करें?

यदि आप आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको NEET पास करना बहुत ही जरूरी है। बहुत सारे लोगों का यह सवाल होता है कि नींद की तैयारी कैसे करें? इस पर हमारा जवाब यह है कि आप सिलेबस के अनुसार पढ़ाई करें और हर विषय के लिए टाइम टेबल बनाएं और उसी के हिसाब से उसका अध्ययन करें। आपको NEET पास करने के लिए टेंशन लेने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है। इसीलिए आप कम से कम 7 से 8 घंटे की अच्छी नींद लें और फ्रेश माइंड के साथ पढ़ाई करें।

NEET पास करने के लिए आप अच्छे-अच्छे बुक पढ़ सकते हैं और साथ ही साथ पिछले साल हुई परीक्षा के अनुसार टॉपिक सेलेक्ट कर सकते हैं और उन्हें पढ़ सकते हैं। हालांकि NEET में आए प्रश्न को दोबारा दोहराया नहीं जाता है लेकिन उससे आपको आईडिया मिल जाता है कि किस प्रकार के प्रश्न बनाए जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *